बॉलीवुड बायकॉट गैंग के निशाने पर रितिक रोशन, माफी से कम कुछ भी स्वीकार नहीं है!

बॉलीवुड बायकॉट गैंग के निशाने पर रितिक रोशन, माफी से कम कुछ भी स्वीकार नहीं है!

बॉलीवुड की तरह अभिनेता रितिक रोशन के सितारे भी इनदिनों गर्दिश में चल रहे हैं. अभी ‘लाल सिंह चड्ढा’ प्रकरण शांत भी नहीं हुआ था कि एक नया मामला गले पड़ गया है. इस बार सोशल मीडिया पर बायकॉट मुहिम चलाने वाला गैंग माफी की मांग कर रहा है. मामला इतना बढ़ गया है कि कानूनी कार्यवाही कराने की चेतावनी तक दी जा रही है. दरअसल, ये मामला ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो के एक विज्ञापन से जुड़ा हुआ है, जिसमें अभिनेता महाकाल थाली की डिलीवरी का जिक्र कर रहे हैं. इसके बाद सोशल मीडिया पर #रितिक_रोशन_माफी_मांग और #Boycott_Zomato तेजी से ट्रेंड कर रहा है. हालांकि, विवाद बढ़ता हुआ देख जोमैटो ने विज्ञापन वापस लेते हुए माफी मांग ली है. लेकिन रितिक रोशन की तरफ से अभी तक कोई बयान जारी नहीं किया गया है.

ऑनलाइन फूड डिलीवर कंपनी जोमैटो ने महाकाल मंदिर पर रितिक रोशन का विवादित विज्ञापन वापस ले लिया है.
जोमैटो के विवादित विज्ञापन में रितिक रोशन कह रहे हैं, ”थाली खाने का मन किया. उज्जैन में हैं, तो महाकाल से मंगा लिया.” इस विज्ञापन के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने रितिक रोशन और जोमैटो कंपनी का विरोध करना शुरू कर दिया. #रितिक_रोशन_माफी_मांग के साथ एक यूजर ने लिखा, ”जोमैटो ने महाकाल महादेव मंदिर का जिस तरह से मजाक उड़ाया है हम उसका पुरजोर विरोध करते हैं. मैं चाहता हूं कि रितिक रोशन तुरंत इस मामले में माफी मांगे. वो कैसे अपने ईश्वर की अपमान कर सकते हैं.” दूसरे यूजर श्यामवीर सिंह लिखते हैं, ”अब समय आ गया है जब सभी को मिलकर तुच्छ मानसिकता वाले बॉलीवुड के अभिनेताओं को सबक सीखना चाहिए. इनकी फिल्में बायकॉट करके ऐसा किया जा सकता है. जोमैटो और रितिक रोशन की इतनी हिम्मत कैसे हो गई.”

सोशल मीडिया के अलावा उज्जैन के महाकाल मंदिर के पुजारियों ने भी इस मामले में अपना विरोध दर्ज कराया है. उनका कहना है कि जो कंपनी देश के ग्राहकों को वेज और नॉन वेज खाने की ऑनलाइन डिलीवरी करती है, उन लोगों को तत्काल महाकाल के नाम की थाली का भ्रामक विज्ञापन बंद कर देना चाहिए. यदि ऐसा नहीं हुआ तो महाकाल मंदिर पुजारी संघ की ओर से इस मामले में केस दर्ज कराया जाएगा. कंपनी और अभिनेता के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की मांग की जाएगी. उनका कहना है कि कंपनी ने हिन्दू भावनाओं को ठेस पहुंचाई है. कंपनी ने माफी नहीं मांगी तो हम कोर्ट भी जाएंगे. मंदिर के एक पुजारी ने कहा, ”कंपनी ने अपने विज्ञापन में महाकाल मंदिर को लेकर भ्रामक प्रचार किया है. हिंदू समाज सहिष्णु है. कभी उग्र नहीं होता. कोई दूसरा समुदाय होता, तो ऐसी कंपनी में आग लगा देता.”
सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक इस मामले को तूल पकड़ता हुआ देख जोमैटो ने महाकाल मंदिर पर रितिक रोशन पर फिल्माए गए विज्ञापन को वापस ले लिया है.

इतना ही नहीं इस ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी ने माफी भी मांगी है. जोमैटो ने अपनी सफाई देते हुए कहा कि अभिनेता ने महाकाल रेस्टोरेंट से थाली मंगाने की बात कही थी, न कि महाकालेश्वर मंदिर से. यह विज्ञापन उनके देशभर में जारी कैंपेन का एक हिस्सा है. इसमें वे लोकल फूड आउटलेट्स के सबसे ज्यादा चर्चित मेन्यू को प्रमोट कर रहे हैं. विज्ञापन में महाकाल से थाली मंगवाने का मतलब शहर के प्रसिद्ध महाकाल रेस्टोरेंट से था. जोमैटो ने कहा है, ”हम उज्जैन के लोगों की भावनाओं का पूरे हृदय से सम्मान करते हैं. इस विज्ञापन को बंद कर दिया गया है. हमारा मकसद किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था. हम दिल से माफी मांगते हैं.”

बॉलीवुड अभिनेता रितिक रोशन आमिर खान की फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ की तारीफ करने के बाद से ही लोगों के निशाने पर हैं. सोशल मीडिया पर लंबे समय से आमिर की फिल्म का बायकॉट हो रहा है. इसी बीच बॉलीवुड भाईचारा दिखाते हुए रितिक रोशन ने ट्विटर पर फिल्म की तारीफें कर दी. उन्होंने लिखा था, ”मैंने हाल ही में लाल सिंह चड्ढा देखी. मैंने इस फिल्म के दिल को महसूस किया है. अच्छी और बुरी चीजें एक साइड में रखकर, यह फिल्म वाकई शानदार है. इतनी अच्छी फिल्म को मिस मत करिए. जाइए और इसे अभी देखिए. ये बेहद खूबसूरत और सुंदर है.” रितिक के इतना लिखते ही लोग नाराज हो गए. इसके बाद लोगों ने रितिक रोशन की आने वाली फिल्म विक्रम वेधा का विरोध शुरू कर दिया. सोशल मीडिया पर बायकॉट विक्रम वेधा ट्रेंड करने लगा. अब रितिक एक नए विवाद में फंस गए हैं.

Ronak Lakhani

Ronak Lakhani