दर्शकों की फेवरेट बन रही कांतारा की कमाई जारी

दर्शकों की फेवरेट बन रही कांतारा की कमाई जारी

रिषभ शेट्टी के निर्देशन में बनी कन्नड़ फिल्म कांतारा (Kantara) को ना सिर्फ साउथ इंडस्ट्री में बल्कि विश्वभर से तारीफें बंटोर रही है। इस फिल्म को दर्शकों की खूब सराहना मिल रही है। फिल्म के निर्देशन के साथ-साथ फिल्म के लीड एक्टर का रोल अदा कर रहे रिषभ शेट्टी की परफॉर्मेंस की खूब तारीफ हो रही है। इस फिल्म को सुपरहिट KGF फ्रेंचाइजी फिल्म के मेकर्स होम्बाले फिल्म्स ने प्रोड्यूस किया है।

Kantara का यूनीक कंटेंट दर्शकों को कर कर रहा है आकर्षित
कांतारा को ना सिर्फ क्रिटिक्स बल्कि दर्शकों के भी बेहतरीन रिव्यूज मिल रहे हैं। सोशल मीडिया पर दर्शक इस फिल्म के यूनीक कंटेंट और सिनेमैटोग्राफी की खूब तारीफ कर रहे हैं। फिल्म के निर्देशन और अभिनय को लेकर रिषभ शेट्टी से आने वाले समय में और इस तरह की फिल्में रिलीज करने की मांग कर रहे हैं। ये फिल्म एक कल्चरल ड्रामा फिल्म है जिसमें एक खास संस्कृति से जुड़ी कहानी को मजेदार अंदाज में बयान किया गया है।

रिलीज के 11वें दिन बॉक्स ऑफिस पर कांतारा की कमाई
30 सिंतबर को सिर्फ कन्नड भाषा में रिलीज हुई कांतारा ने ओपनिंग डे पर 1.95 करोड़ रुपये की कमाई की। इसके बाद दर्शकों को इस फिल्म ने क्लिक किया और वर्ड ऑफ माउथ की बदौलत फिल्म की कमाई में लगातार ग्रोथ देखने को मिली। पहले वीकेंड की बजाय रिलीज के दूसरे वीकेंड में फिल्म ने शानदार कमाई दर्ज करवाई। आइए जानें रिलीज 11वें दिन तक कितना रहा कांतारा (Kantara) फिल्म का कलेक्शन…
डे 1- 1.95 करोड़ रु
डे 2- 2.65 करोड़ रु
डे 3- 4.9 करोड़ रु
डे 4- 3.7 करोड़ रु
डे 5- 5 करोड़ रु
डे 6- 7.1 करोड़ रु
डे 7- 5 करोड़ रु
डे 8- 5.8 करोड़ रु
डे 9- 8.15 करोड़ रु
डे 10- 9.64 करोड़ रु
डे 11- 3.50 करोड़ रु
कुल कमाई- 57.11 करोड़ रु

हिन्दी में रिलीज होगी इस दिन
कन्नड़ भाषा में रिलीज हुई कांतारा को मिल रहे बेहतरीन रिस्पॉन्स को देखते हुए मेकर्स अब इस फिल्म को अन्य भाषाओं में भी रिलीज करने जा रहे हैं। मेकर्स ने अब इस फिल्म को हिन्दी भाषा समेत साउथ की सभी भाषाओं में रिलीज करने का फैसला लिया है। ये फिल्म हिन्दी में 14 अक्टूबर को रिलीज होने जा रही है और तेलुगू में ये फिल्म 15 अक्टूबर को रिलीज होगी।

क्या है कांतारा की कहानी?
फिल्म कांतारा के कांतारा शब्द का मतलब है घना जंगल। ये फिल्म ‘भूत कोला’ नाम के अनुष्ठान पर बेस्ड है। फिल्म की कहानी एक पंजुरली नाम के देवता पर बेस्ड है। फिल्म में जंगल में बसे गांववालों सुअर जावनर की शक्ल जैसे दिखने वाले देवता पंजुरली की पूजा करते हुए दिखाया गया है। फिल्म की कहानी में दिखाया गया है कैसे एक राजा देवता के रूप में एक विशाल पत्थर को अपने राजमहल में रखना चाहता था और इसके महल तक लाने में कई लोगों की जरूरत थी। गांव वालों ने राजा की मदद के बदले में कुछ जमीन उन्हें देने की शर्त रखी। राजा ने ये शर्त मान ली। लेकिन बहुत सालों बाद अब राजा के वंशज इस जमीन को वापिस लेना चाहते हैं। ये जमीन ही एक बड़ा मसला बना हुआ है।

Ronak Lakhani

Ronak Lakhani