Mimicry controversy 🤔: हंसी के पीछे राजनीति! 😅 ममता ने उठाए सवाल, धनखड़ की नकल पर मचा बवाल! 🤯🔥

admin
3 Min Read

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री राज्य के लिए mimicry controversy लंबित केंद्रीय निधि को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने के लिए बुधवार को संसद परिसर में थीं।

तृणमूल कांग्रेस सांसद कल्याण बनर्जी ने mimicry controversy पर किया बयान

mimicry controversy को लेकर विवादों में घिरे तृणमूल कांग्रेस सांसद कल्याण बनर्जी ने भी कहा कि धनखड़ को ठेस पहुंचाने या उनका अनादर करने का उनका कभी कोई इरादा नहीं था।

कल्याण का बयान:

कल्याण ने कहा कि उनका इरादा किसी को ठेस पहुंचाने का नहीं था, लेकिन उन्होंने मिमिक्री एक्ट के लिए कोई माफी नहीं मांगी, जिसे धनखड़ ने उपराष्ट्रपति पद, किसानों और अपने समुदाय का अपमान बताया है।

mimicry controversy

mimicry controversy ,टीएमसी सांसद का तर्क: “नकल करना अपराध नहीं

टीएमसी सांसद ने कहा, ”नकल करना कोई अपराध नहीं है, वे (भाजपा) मुख्य मुद्दे को बदलने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या विपक्षी सांसदों का निलंबन सही था।” उन्होंने दावा किया कि मोदी ने भी पहले ऐसा किया है।उन्होंने बुधवार को कहा, “उपराष्ट्रपति सहित किसी को ठेस पहुंचाने का उनका बिल्कुल भी इरादा नहीं था। संवैधानिक पदों का सम्मान करें।”

mimicry controversy

कल्याण का दृष्टिकोण: मतभेदों का स्वीकृति, परंतु अनादर का कोई इरादा नहीं

कल्याण ने कहा कि कुछ मुद्दों पर धनखड़ के साथ उनके कुछ मतभेद हो सकते हैं, लेकिन उनका उनके प्रति अनादर करने का कोई इरादा नहीं है। उन्होंने कहा कि धनखड़ उनके गृह राज्य पश्चिम बंगाल के राज्यपाल रहे हैं और उनकी तरह एक वकील हैं।

संसदीय बाधा: 141 विपक्षी सांसदों को निलंबित करने से उत्पन्न प्रतिरोध

कार्यवाही में बाधा डालने के लिए 141 विपक्षी सांसदों को लोकसभा और राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया, उनमें से कई ने मंगलवार को सांसदों के लिए संसद के मुख्य द्वार पर विरोध प्रदर्शन किया।

mimicry controversy ,कल्याण के विरोध प्रदर्शन में धनखड़ की मिमिक्री

विरोध प्रदर्शन के दौरान, कल्याण ने अपने सहयोगियों के जयकारे के बीच धनखड़ के तौर-तरीकों की नकल की। कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अपने मोबाइल फोन से इस कृत्य का वीडियो बनाते देखा गया।

ममता का जवाब: “mimicry controversy राजनीतिक था, आकस्मिक नहीं”

मिमिक्री विवाद के बारे में पूछे जाने पर, ममता ने कहा, “हम हर किसी का सम्मान करते हैं। यह अपमानजनक नहीं था। यह सिर्फ राजनीतिक रूप से, आकस्मिक था… अगर राहुल जी ने इसे रिकॉर्ड नहीं किया होता तो आपको इसका पता भी नहीं चलता।”

Parliament Security🏛️ 🔒: Sensational हंगामा💥! 78 सांसद बाहर, क्या टूट गई लोकतंत्र की डोर?? 🤔

देश के लिए दान करें: कांग्रेस का ‘देश के लिए दान’ अभियान, सिर्फ 138 रुपये से, बनाएं देश को मजबूत! 🌟💰

Share This Article