यूपीएससी में 121वीं रैंक की खुशी में बांट दी मिठाई सच पता चला तो अस्पताल में करना पड़ा भर्ती

यूपीएससी में 121वीं रैंक की खुशी में बांट दी मिठाई सच पता चला तो अस्पताल में करना पड़ा भर्ती

यूपीएससी एग्जाम का रिजल्ट 30 मई को घोषित हो चुका है। रिजल्ट जारी होने के बाद कुछ कैंडिडेट के चेहरों पर खुशी झलक रही है तो कुछों के चेहरे पर निराशा। लेकिन बुलंदशहर के रहने वाले उत्तम भारद्वाज अपनी एक गलती की वजह से अस्पताल पहुंच गए। दरअसल, उत्तम भारद्वाज ने अपना रोल नंबर और पिता का नाम देखे बिना ही पूरे परिवार के साथ मीडिया को बता दिया कि वह आईएएस बन गए है। उत्तम ने बताया कि उन्हें यूपीएससी एग्जाम के रिजल्ट में 121वीं रैंक पाकर परीक्षा पास कर ली।

24 घंटे बाद सच आया सामने
यह बात सुन उत्तम भारद्वाज का परिवार भी खुशियों से उछल पड़ा। उत्तम के परिजनों ने पूरे इलाके में मिठाई भी बांट दी और सभी रिश्तेदारों को बेटे के आईएएस बनने की खुशखबरी भी दे दी। जैसे ही यह बात फैली तो उत्तम भारद्वाज को बधाई देने वालों का तांता लग गया। बधाई का यह सिलसिला 24 घंटे तक चल, लेकिन 24 घंटे बीत जाने के बाद सच्चाई सबके सामने आई तो सभी के होश उड़ गए। दरअसर, यूपीएससी का एग्जाम बुलंदशहर के उत्तम भारद्वाज ने नहीं, बल्कि हरियाणा के सोनीपत की रहने वाली छात्रा उत्तम भारद्वाज ने क्लियर किया था।

विदेश मंत्रालय में तैनात है उत्तम भारद्वाज
बता दें कि उत्तम भारद्वाज मूल रूप से बुलंदशहर जिले के देवीपुरा का रहने वाला है। वर्तमान में वो दिल्ली में विदेश मंत्रालय में असिस्टेंट सेक्शन ऑफिसर के पद पर तैनात हैं। उत्तम के पिता नवीन कुमार शर्मा विद्युत विभाग में अधिशासी अभियंता हैं और उनकी तैनाती इस समय मुरादाबाद में है। वर्तमान में वह मुरादाबाद के मझोला के बिजली घर की कालोनी में रहते हैं। उत्तम भारद्वाज का यूपीएससी की परीक्षा में यह पहला प्रयास था।

इस वजह से हुआ यह सारा कन्फ्यूजन
रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह पूरा कन्फ्यूजन एक रोल नंबर की वजह से हुआ है। दरअसल, बुलंदशहर निवारी उत्तम भारद्वाज ने रोल नंबर के आखिरी नंबर पर ध्यान नहीं दिया और हरियाणा के सोनीपत जिले के निजामपुर गांव निवासी छात्रा उत्तम भारद्वाज का रोल नंबर डाल दिया। उत्तम ने अपना नाम देखा तो उसे लगा कि सफलता उसके हाथ लग गई। लेकिन जब हरियाणा की छात्रा ने उस रोल नंबर पर अपना दावा ठोका तो बुलंदशहर का छात्र उत्तम हैरान रह गया। आपको बता दें कि उत्तम का रोल नंबर 3516894 है तो वहीं हरियाणा निवारी उत्तम भारद्वाज का रोल नंबर 3516891 है।

सच सामने आने के बाद उत्तम भारद्वाज पहुंचा अस्पताल
उत्तम के सामने जब ये सच आया तो वह अस्पताल पहुंच गया। रिपोर्ट्स में ऐसा दावा किया जा रहा है कि उत्तम को हार्ट अटैक आ गया, इसलिए उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उसकी तबीयत अभी ठीक है। लेकिन उसके परिजन अब मीडिया के सवालों से बच रहे है। हालांकि, उत्तम भारद्वार ने अब एक चिट्ठी लिखकर इस बात पर माफी मांगी है।

उत्तम भारद्वाज ने क्या लिखा चिट्ठी में
उत्तम भारद्वार ने माफी मांगते हुए एक पत्र लिखा है। उत्तम ने लिखा, ‘मैं उत्तम, अपने दिल की गहराइयों के साथ बता रहा हूं कि मुझे दुख है कि मेरी दस्तावेज दारी में रोल नंबर को नोट करते समय मेरी गलती के चलते यूपीएससी सीएससी 2021 में मेरे चयन होने की गलत सूचना फैल गई थी। कृपया मुझे इस गलती के लिए माफ करें।’

Ronak Lakhani

Ronak Lakhani