क्या नाखून रगड़ने के इन फायदों के बारे में जानते हैं आप? रोजाना 10 मिनट प्रैक्टिस से दिखने लगेगा चेंज

क्या नाखून रगड़ने के इन फायदों के बारे में जानते हैं आप? रोजाना 10 मिनट प्रैक्टिस से दिखने लगेगा चेंज

आप सभी कई लोगों से मिलते रहते हैं। आप लोगों ने कभी गौर किया होगा कि कुछ लोग खाली समय में अक्सर अपने नाखूनों को रगड़ते रहते हैं। शायद हो सकता है कि कुछ लोगों को यह एक्टिविटी आश्चर्यजनक लगती होगी। दुनिया भर के योग गुरु नाखून रगड़ने की सलाह देते हैं, जिसे बालयाम (Balayam) भी कहा जाता है। इसका शाब्दिक अर्थ है “बालों का व्यायाम।” नाखून रगड़ने की प्रक्रिया आज से नहीं बल्कि प्राचीन काल से ही चलती आ रही है, जो आजकल के समय में भी काफी कारगर साबित हो रही है।

बालयाम योग या नाखून रगड़ना एक तरह का योग है। नाखून रगड़ने से कई बीमारियां दूर होती हैं। जी हां, आप लोग बिल्कुल सही सुन रहे हैं। जानकारों का ऐसा कहना है कि अगर हम अपने नाखूनों को रगड़ते हैं तो इससे हमें कई शारीरिक फायदें प्राप्त होते हैं। अगर आप नाखून रगड़ने के फायदे के बारे में नहीं जानते हैं, तो जब आप इसे जानेंगे तो आज से ही इसे शुरू कर देंगे। इसके एक नहीं बल्कि कई फायदे होते हैं।

आपको बता दें कि एक्यूप्रेशर थेरेपी में भी नाखून रगड़ने को काफी अहमियत दी जाती है। खराब लाइफ स्टाइल, जंक फूड खाना, प्रोटीन और कैल्शियम की कमी होना, समय पर खाना नहीं खाना आदि बातों से कई प्रकार की परेशानियां होने लगती हैं। अगर आप दोनों हाथों के नाखूनों को रगड़ते हैं तो इससे बालों का झड़ना, सफेद होना, कमजोर होना और गंजापन आने जैसी परेशानी से आपको छुटकारा प्राप्त होता है। इतना ही नहीं बल्कि इसके अन्य भी बहुत से फायदे हैं। तो चलिए जानते हैं नाखून रगड़ने के फायदों के बारे में…
नाखून रगड़ने के फायदे

1. नाखून रगड़ने की प्रक्रिया एक चाइनीस एक्यूप्रेशर का हिस्सा होती है। इस क्रिया में जब आप अपने दोनों हाथों के नाखूनों को आपस में रगड़ते हैं, तो इसकी वजह से जो घर्षण पैदा होता है और जो गर्मी पैदा होती है, उससे आपके सिर के स्कैल्प पर प्रभाव पड़ता है।

2. नाखून रगड़ना एक आरामदायक व्यायाम है, जो मन को शांत करने में मदद करता है। नाखूनों को आपस में रगड़ने से आपके स्कैल्प का रक्त संचार बढ़ने लगता है, जिसकी वजह से आपके बालों के झड़ने की समस्या कम हो जाती है। इतना ही नहीं बल्कि नाखूनों को आपस में रगड़ने से आपके बाल दुगनी तेजी से बढ़ने लग जाते हैं। आपके बाल मजबूत होते हैं और नेचुरली बालों में ग्रोथ होती है। इसके साथ ही इसे करने से आपके बाल जल्दी सफेद नहीं होते।

3. यह रक्त परिसंचरण को बढ़ाता है, जो स्वास्थ्य लाभ जैसे बेहतर हृदय और फेफड़ों के कार्य के साथ-साथ आपको ऊर्जा प्रदान करता है। नाखूनों को बार बार रगड़ने से चर्म रोग समस्या भी दूर हो सकती है।
क्या है बालयाम करने का तरीका?

आप अपने हाथों को छाती के पास रखें और अंगुलियों को अंदर की तरफ लाएं और नाखून को एक दूसरे से रगड़ें। जितना हो सके इसे लंबे समय तक के लिए करते रहिए। अगर आप बेहतर रिजल्ट प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए अंगूठे को ना रगड़े। कम से कम आप रोजाना 5 से 10 मिनट तक ऐसा कीजिए।

सावधानियां
1. वैसे आपको बता दें कि यह एक बहुत ही आसान अभ्यास है परंतु कुछ मामले में इसे नहीं करना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को इस तकनीक का अभ्यास करने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे उच्च रक्तचाप और गर्भाशय में संकुचन हो सकता है, जो नुकसानदायक है।

2. एपेंडिसाइटिस और एंजियोग्राफी जैसी सर्जिकल समस्याओं से पीड़ित लोगों को नाखून रगड़ने से बचना चाहिए क्योंकि इससे धड़कन और उच्च रक्तचाप के लक्षण और गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

Ronak Lakhani

Ronak Lakhani