एयरपोर्ट की तरह दिखने वाला भारत का पहला विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन, यहां पूरा शहर समाया हुआ है

एयरपोर्ट की तरह दिखने वाला भारत का पहला विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन, यहां पूरा शहर समाया हुआ है

देश में कई ऐसे रेलवे स्टेशन हैं, जो अपनी खूबसूरती और सुविधा के लिए जाने जाते है. लेकिन, आज बात भारत के पहले वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन की जिसे देखकर आपको लगेगा कि आप रेलवे स्टेशन नहीं किसी एयरपोर्ट पर हैं. यह देश का पहला ISO-9001 सर्टिफाइड रेलवे स्टेशन है.

एयर कॉन्‍कोर्स यात्रियों को भीड़भाड़ से बचाएगा
हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में रानी कमलापति रेलवे स्टेशन (Rani Kamlapati Railway Station) की. जो किसी एयरपोर्ट से कम नहीं है. इस स्टेशन को साल 2021 में री-डेवलप किया गया. जो जर्मनी की हेडलबर्ग रेलवे स्टेशन की तर्ज पर हुआ है.

इसमें एयर कॉन्‍कोर्स की सुविधा है. जो 84 मीटर लंबा और 36 मीटर चौड़ा है. जिसमें यात्री भीड़भाड़ से बचते हुए अंदर जा सकेंगे. इस एयर कॉन्‍कोर्स में 900 यात्रियों की बैठने की भी सुविधा है.

एक शहर समाया हुआ है
यह कभी हबीबगंज रेलवे स्टेशन के नाम से जाना जाता था. इसे करीब 450 करोड़ रुपए की लागत से रिनोवेशन किया गया. इसमें विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन की तरह सुविधाएं मौजूद हैं.

जिसका नाम गोंड साम्राज्य की साहसी और निडर रानी कमलापति के नाम पर रखा गया.
इस एयरपोर्ट जैसे दिखने वाले आधुनिक रेलवे स्टेशन में एक पूरा शहर बसा हुआ है. यहां सिनेमा घर, शॉपिंग मॉल, सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, फाइव स्टार होटल, कैफेटेरिया, जैसी तमाम सुविधाएं मिलेंगी.

यह देश का पहला ऐसा रेलवे स्टेशन है, जहां यात्रियों के आने जाने के लिए अलग-अलग रास्ते बनाए गए हैं. अगर किसी यात्री को कोई ट्रेन पकड़नी है तो वह एयर कॉन्‍कोर्स से रेलवे प्लेटफ़ॉर्म पर पहुंच जाएगा. वहीं अगर कोई यात्री यहां उतरता है तो वो सब-वे से होता हुआ रेलवे स्टेशन के बाहर निकल जाएगा.

साफ सुथरे वेटिंग रूम की सुविधा
इस विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन पर साफ सफाई की पूरा ध्यान रखा गया है. यहां यात्रियों के लिए बहुत ही शानदार वेटिंग रूम बनाया गया है. जो बहुत ही साफ-सुथरा और किसी फाइव स्टार होटल के रूम से कम नहीं है.

एयरपोर्ट की तरह ट्रेनों की जानकारी के लिए वेटिंग लाउंज में LED स्क्रीन लगाई गई है. जहां बैठे-बैठे यात्री ट्रेनों के स्थिति की जानकारी प्राप्त कर सकता है. यहां एमपी के इतिहास और पर्यटन स्थल की किताबें भी रखी गई हैं.

सुरक्षा के कड़े इंतेज़ाम
कमलापति रेलवे स्टेशन पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गए हैं. तक़रीबन 4 लाख स्कवायर फीट के क्षेत्रफल में फैले रेलवे स्टेशन पर पूरे 170 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. जो स्टेशन के चप्प्पे-चप्पे की निगरानी करेगा. हाई रेसोल्यूशन वाले इस सीसीटीवी कैमरों की लाइव रिकॉर्डिंग सर्विलेंस रूम में 24 घंटे होती रहेंगी.

Ronak Lakhani

Ronak Lakhani